The apple never falls far from the tree

*****

हाँ मैंने देखी, 

कुदरत की ना-इंसाफ़ी देखी। 

रोटी के टुकड़े को तरसते लोगे देखे। 

और कहीं मनों के हिसाब से बिखरे सेब देखे। 

कहीं कूड़े पे पड़ा खाना भी है हलाल, 

और कहीं  चिड़िया भी चोंच न लगाए ये है हाल। 

-रुपाली 

*****

There are people in the world so hungry, that God cannot appear to them except in the form of bread. ~Mahatma Gandhi

*****

When I give food to the poor, they call me a saint. When I ask why the poor have no food, they call me a communist.~ Dom Helder Camara

*****

Some fascinating stories

Food waste reduction in Norway 2020

Why a campaign to prevent food waste at Norway Cup?

Blessing of elders

When I started counting my blessings, my whole life turned around ~ Willie Nelson

*****

जीवन की हर परीक्षा के बाद 

बस यही लगा कि 

वो माँ ही की दुआ थी 

जो काम आ गयी। 

-रुपाली 

Weakness

Leaving the stage is not a weakness. Just a matter of a season we meet again.

—–

मेरी कमजोरी पे हसने 

से न कुछ हासिल होगा। 

मेरे जाने में और लौट के आने में,

बस एक मौसम का ही फ़ासला है। 

-रुपाली 

Devote

Our well being

depends on

how, when and where

we devote our time.

-Rupali

#####

#####

आप सभी को नवरात्री की शुभकामनाएं 

नवरात्री के इन नौ दिनों में देवी और देवी के रूप की चर्चा है।  मेरी कुछ पंक्तियाँ

देवी कौन  है

सीता एक स्त्री थी। 

दौपदी एक स्त्री थी। 

अहिल्या एक स्त्री थी। 

मेरी सास एक स्त्री थीं । 

मेरी माँ एक स्त्री हैं। 

पढ़ने वाली आप और लिखने वाली मैं एक स्त्री हूँ। 

धरती भी एक स्त्री है। 

सबसे जुड़ी हुई,

सबको जोड़े हुए। 

ये धरा है, तो हम हैं। 

हमारा अस्तित्व इस धरा से जुड़ा है। 

देवी कौन है, धरा ही देवी है। 

धरा ही दुर्गा, लक्ष्मी और सरस्वती है।  

– रुपाली 

Random 91: Spontaneity

Spontaneity

Tired of

chasing nectar,

butterfly decided to rest.

Hope even we do this often.

*****

ना दौड़ने का शऊर है, ना ठहरने का। 

कमबख़्त जिंदगी किस मुकाम पे आ पहुंची है।  

-रुपाली 

*****