“perfect” क्या है बस एक ख्याल …

माँ ने इक उम्र पति के ऐबों को छुपाते गुज़ार दी,

बेटियाँ अपना पति अपने पिता की तरह “perfect” नहीं,

इस एहसास-ए-कमतरी में गुज़ार रही हैं।

– रुपाली

Advertisements