आपका क्या ख़याल है -1

आज से मैं एक स्तंभ/काँलम/पेज शुरू कर रही हूँ “आपका क्या ख़याल है”

रोज़मर्रा की जिंदगी में होने वाले वो वाक़ियात जो एक पल में या तो हमें हँसी दे जाते हैं या कुछ सोचने पर मजबूर कर देते हैं। उन्हीं का लेखाजोखा है ये पेज…  

आप सभी से अनुरोध है आप भी अपने ख़याल/विचार साझा करें। 

 कभी रस्ते पर चलने वाले छोटे भाई-बहन को देखें। वो जब तक होसके हाथ थामे रहते हैं।  किसी कारणवश हाथ छूटे तो झट से फिर पकड़ लेते हैं। ये प्यार और अपनेपन का एहसास तमाम उम्र रहे तो कितना अच्छा हो।

मेरी हर एक पोस्ट को में एक नंबर दूँगी और वह इस पेज पर जोड़ दूँगी।